जिसने तोड़ा सचिन तेंदुलकर का 30 साल पुराना रिकॉर्ड उसी के मुरीद हुए क्रिकेट के भगवान

rochak news

नई दिल्ली। भारतीय महिला क्रिकेट टीम की सलामी और विस्फोटक बल्लेबाज शेफाली वर्मा के बचपन का सपना पूरा हो गया है। भारतीय फैन्स के बीच क्रिकेट के भगवान के नाम से मशहूर सचिन तेंदुलकर ने हाल ही में इस युवा खिलाड़ी से मुलाकात की और उनके बचपन का सपना पूरा किया। शेफाली ने इस बारे में बात करते हुए लिखा था कि यह सचिन तेंदुलकर ही थे जिनकी वजह से वह इस खेल से जुड़ी और उन्हें ही अपना आदर्श मानती हैं।


सचिन तेंदुलकर को अपना आदर्श मानने वाली शेफाली वर्मा ने 6 साल पहले अपने गांव से दूर हरियाणा के लाहली में अपना आखिरी रणजी मैच खेलने पहुंचे मास्टर ब्लास्टर को सिर्फ देखने के लिये पिता के साथ पहुंची थी। जिसके बारे में जानकर सचिन तेंदुलकर भी काफी प्रभावित हुए।

शेफाली के मिले सचिन तेंदुलकर, बचपन का सपना हुआ पूरा इस युवा महिला बल्लेबाज ने हाल ही में सचिन तेंदुलकर से मुलाकात की और अपने अब तक के सफर और उसमें सचिन तेंदुलकर से मिली प्रेरणा का जिक्र किया। शेफाली ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर सचिन तेंदुलकर के साथ मुलाकात की एक तस्वीर भी साझा की। शेफाली वर्मा ने इस तस्वीर के साथ लिखा, ‘मैं सचिन सर के कारण ही इस खेल से जुड़ी। मेरा पूरा परिवार उन्हें ना सिर्फ आदर्श मानता है बल्कि उनकी पूजा भी करता है। आज मेरे लिए खास दिन है क्योंकि मैं अपने बचपन के नायक से मिली। यह मेरे लिए सपना सच होने जैसा है।’

शेफाली के मुरीद हुए सचिन तेंदुलकर, दी खास सलाह शेफाली की इस पोस्ट पर सचिन तेंदुलकर ने भी जवाब दिया और लिखा कि आपसे हुई मुलाकात काफी अच्छी रही। सचिन तेंदुलकर ने अपने आखिरी रणजी मुकाबले में शेफाली के पहुंचने और मैच देखने के लिये भी तारीफ की और कहा कि भारत के लिये आपको खेलते देखना बेहद शानदार है। सचिन तेंदुलकर ने आगे कहा, ‘अपने सपनों के पीछे जाती रहो क्योंकि सपने सच होते हैं। खेल का लुत्फ उठाओ और हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करो।’ गौरतलब है कि सचिन तेंदुलकर ने अपना आखिरी रणजी मैच लाहली में मुंबई की ओर से हरियाणा के खिलाफ अक्टूबर 2013 में खेला था।

डेब्यू के दौरान ही तोड़ा था सचिन का 30 साल पुराना रिकॉर्ड उल्लेखनीय है कि अपने डेब्यू के कुछ मैचों बाद ही शेफाली वर्मा ने सचिन तेंदुलकर के 30 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड को तोड़ दिया था। शेफाली वर्मा ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ 49 गेंदों में 73 रनों की तूफानी पारी खेलकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अर्धशतक बनाने वाली सबसे कम उम्र की भारतीय खिलाड़ी बनने का रिकॉर्ड अपने नामम कर लिया था। वह 2020 आईसीसी महिला टी20 वर्ल्ड कप के लिए हरमनप्रीत कौर की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया गई भारतीय टीम की सदस्य हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *